(Nahate hue Ammi ki Chudai)

नहाते हुए अम्मी की चुदाई

हाय, मेरा नाम सलमान हैं मेरी एज 20 साल हैं और मैं देल्ही मे अपनी छोटी सी फॅमिली के साथ रहता हू मेरे घर मे मैं मेरी अम्मी मेरा छोटा भाई और पापा हैं, पापा रेलवे मे लोको पाइलट हैं तो अक्सर घर के बाहर ही रहते हैं.सिर्फ़ फेस्टिवल्स मे ही आते हैं.

तो दोस्तो ज़्यादा टाइम खराब ना करते हुए अपनी सच्ची इंडियन एडल्ट सेक्स स्टोरीस पे आता हू.

बात उस समय की हैं जब मैं अपने 12थ का एग्ज़ॅम देके रिज़ल्ट का वेट कर रहा था. गर्मियो के दिन चल रहे थे एक दिन अपने कमरे मे बैठा मूवी देख रहा था की बाहर से अम्मी की आवाज़ आई बेटा सलमान मैं नहाने जा रही हू. अपने रूम से बाहर मत आना क्यूकी अम्मी हमेशा आँगन मे नल के पास ही नहाती थी, क्यूकी मेरे घर का बाथरूम काफ़ी छोटा था. इस के कारण अम्मी को उसमे उलझन होती थी. वो बाथरूम मे तभी नहाती थी जब घर मे कोई गेस्ट आया हुआ हो.

अपनी सेक्स लाइफ को बनाये सुरक्षित, रखे अपने लंड और चुत की सफाई इनसे!

तो अम्मी की आवाज़ सुनके मैने कहा जी अम्मी, मैं यही रहूँगा कमरे मे. फिर उसके बाद मेरे मन मे अजीब सा शैतान जाग उठा. मैने सोचा क्यू ना अम्मी को आज नंगा देखा जाए. जबकी उससे पहले अम्मी के लिए मेरे मन मे कोई गंदी सोच नही थी. लेकिन उस दिन अम्मी का गोरा बदन सोच के मेरा लंड खड़ा हो गया और मैं धीरे से एक स्टूल लेके अपने रूम की विंडो के पास खड़े होके बाहर की तरफ देखा, तो मेरी आँखे खुली की खुली रह गई.

क्यूकी मेरी अम्मी कमर तक पूरी नंगी हो के पात्रे पे बैठी, अपने पैरो के नेल्स को सॉफ कर रही थी और उनके दो खूबसूरत बूब्स दोनो तरफ झूल रहे थे. माशाअल्लाह क्या गोरा बदन था अम्मी का, उनके निप्पल के काले घेरे काफ़ी दूर तक फैले हुए थे, जो की गोरे बदन की और खूबसूरती बढ़ा रहे थे.

नेल्स साफ करने के बाद अम्मी ने अपने हाथो मे ओइल लिया और उसे अपने चिकने बदन पे लगाने लगी. ये सीन देख के मेरे पैंट मे लंड का बुरा हाल हो रहा था. फिर अम्मी ने थोड़ा सा ओइल अपने हाथ पे लेके अपनी चूत के उपर रगड़ने लगी और उनकी चूत पे काले बाल पूरी तरह से फैले हुए थे.

करीब 5 मिनट तक यही सीन चलता रहा उसके बाद अम्मी खड़ी हो गई. या अल्लाह, मैं बता नही सकता खड़ी होने के बाद उनका नंगा और गोरा बदन क्या लग रहा था. उनके बूब्स और भी चमक रहे थे और निप्पल को देखकर लग ही नही रहा था की ये वही निप्पल हैं जिनको मैं बचपन मे चूस्ता था और हा बचपन से याद आया की मैने अम्मी का दूध काफ़ी बड़े हो जाने के बाद तक पिता रहा, क्यूकी मैं अपनी अम्मी का एकलौता बेटा था.

अधिक कहानियाँ : शादी में आयी मौसी की फूली हुई चूत की चुदाई

काफ़ी दिन के बाद मेरे भाई का जनम हुआ था, जो की मेरे से 2 साल छोटा हैं. तो हा अम्मी टॉवेल लेने के लिए खड़ी हुई थी. टॉवेल लेने के बाद वो फिरसे पत्रे पे बैठ गई और अपने गोरे गोरे बदन पे पानी डालने लगी और फिर साबुन लेके अपने बड़े बड़े बूब्स पे रग़ाद ही रही थी की अचानक फोन की घंटी बजाने लगी, जोकि आँगन के पास ही एक टेबल पे रखा था.

फोन की बेल सुनने के बाद अम्मी ने मुझे आवाज़ दी सलमान सलमान मैं जानभुजाकार नही सुना फिर आवाज़ लगाई सलमान बेटा देखो किसका फोन आ रहा रिसीव करो आके. फिर मैने कहा आप नहा रही हैं तो मैं आ सकता हू. वो बोली आ जाओ कोई बात नही, तू मेरा बेटा ही तो हैं. कोई गैर मर्द तो हैं नहीं. मैने ओके अम्मी और तेज़ी से अपने रूम से बाहर निकला मेरी नज़र अम्मी के बूब्स पे थी.

वो भी मेरी तरफ देख ही रही थी. वो बोली देख बेटा किसका फोन हैं. मैने फोन देखा तो पापा का था. अम्मी से बोला पापा का हैं. बोलो उठा के बात कर और बोल दे की मैं नहा रही हू. मैने वैसा ही कहा. पापा बोले कोई बात नही अम्मी को फोन दो कुछ ज़रूरी बात करनी हैं. अम्मी से कहा पापा आपसे बात करना चाह रहे हैं. बोलो ओके ला फोन मुझे दे और मैं उनके बिल्कुल पास जाके उनको मोबाइल दिया.

वो ऐसे ही नंगी बैठी हुई थी, अपने बेटे के सामने उनको नंगा देखकर मेरे लंड से धीरे धीरे पानी निकल रहा था. अम्मी फोन पे बात कर रही थी और मैं उनके नंगे बदन पे नज़रे गड़ाए घूर रहा था. क्यूकी ध्यान फोन पे था तो मैं उनके पास जाके नल से अपनी पीने के लिए गिलास मे भरने लगा.

तो मेरी उनकी डबल रोटी की तरह फूली हुई चूत का दीदार हो गया. उफफफ्फ़ क्या चूत थी. ऐसा लग रहा था जैसे किसी ने केक को बीच से कट करके, उनके जाँघो के बीच चिपका दिया हो. मैं बता नही सकता उनकी गोरी चिकनी मोटी जांघे देखकर बुरा हाल हो रहा था. इतने मे अम्मी की बात हो गई और उन्होने फोन कट कर दिया और मुझे फोन देके बोली ले बेटा रख दे अलमारी पे.

मैने उनके हाथ से फोन ले लिया और अपने रूम मे जाने लगा. इतने मे अम्मी ने आवाज़ दी बेटा सुनो मैने कहा क्या हुआ? अम्मी बोली बेटा मेरी पीठ पे मैल जम गई तेल लगाने की वजेह से, तो अपने हाथ से थोड़ा रगड़ दे. मेरा हाथ नही जा रहा हैं पीछे. मैने कहा अम्मी मेरा हाथ तो पीछे चला जाता हैं तो आपका क्यू नही जाता? वो बोली बेटा तुझमे और मुझमे काफ़ी फरक हैं. मैने कहा क्या फरक हैं? अम्मी तो वो बोली बेटा मेरे ये दो बड़े दूध हैं इनकी वजेह से नही जाता हाथ. मैने कहा अछा अम्मी मुझे आपके दूध पिए हुए कितने दिन हो गये.

तो वो बोली बेटा तू तो काफ़ी साल से नही पी रहा हैं. मैने कहा अम्मी आज मुझे पिलाओ ना. तो वो बोलो नही बेटा अभी तू बड़ा हो गया हैं. अब नही पी सकता. मैने कहा अम्मी आपके लिए तो अम्मी आज बच्चा ही हू. वो बोलो ठीक हैं बेटा आ पी. लेकिन इसमे अब कुछ भी नही निकलता. मैने कहा मैं मूह लगाउन्गा तो निकालने लगेगा.

वो बोली ठीक हैं पी के देख ले और फिर दोस्तो मैं नीचे बैठ गया उनके बगल मे और उन्होने अपने हाथ से अपने बड़े बूब्स को पकड़ के मेरे मूह की तरफ बढ़ा दिया और इतना देखते ही मैं चीते की तरह झपट के उनके काले निप्पल को अपने मूह मे रख के चूसने लगा. वाआह क्या सॉफ्ट निप्पल थे. मैं बता नही सकता, फिर धीरे धीरे मैने अपनी स्पीड बढ़ा के पीने लगा और मेरे मूह से छाप छाप की आवाज़ आने लगी.

अधिक कहानियाँ : मॉडल बनने की लालसा में बूब चुदाई

फिर कुछ देर बाद मैने महसूस किया की अम्मी मेरा एक हाथ पकड़ के अपनी चूत के पास ले जा रही हैं. ये देखकर मैने और ज़ोर से पीना स्टार्ट कर दिया और फिर अम्मी ने मेरे हाथ की उंगली को अपनी चूत के होल मे डालने लगी.

मुझे बहोत ही ज़्यादा अछा लग रहा था. कुछ देर बाद अम्मी ने मुझसे कहा, बेटा तू अपना पैंट निकाल दे. मैं तेरा लंड देखना चाहती हू. मैने कहा अम्मी आप अपने हाथो से निकाल दे. फिर उन्होने मेरे पैंट को अपने हाथो से निकाल दिया और मेरा लंड अंदर ही अंदर तड़प रहा था. जैसे ही उन्होने लंड देखा मेरा वो बोली वुवूव बेटा तेरी लुल्ली तो अब बहोत बड़ी हो गई हैं. तूने इतने दीनो से मुझसे छुपा रखा था. इस्पे मैं कुछ नही बोला.

बठाये अपने लंड की ताकत! मालिस और शक्ति वर्धक गोलियों करे चुदाई का मज़ा दुगुना!

फिर वो बोली बेटा इसको मेरे अंदर डालदे जल्दी से, मुझे बहोत तेज जोश चढ़ गया हैं और मैने उनकी चूत को देखा तो काफ़ी गीली हो चुकी थी. उन्होने अपने दोनो पैर फैला दिए और मेरे लंड को पकड़ के अपने होल मे डालने लगी. धीरे से मेरा लंड अम्मी की चूत मे समा गया, उनकी चूत काफ़ी बड़ी थी, क्यूकी मुझे तो पता भी नही चला कब अंदर चला गया.

फिर वो खुद ही झटके देने लगी. मुझे काफ़ी अछा लग रहा था. कुछ देर ऐसे ही चलता रहा फिर अचानक से मेरे लंड से पानी निकल गया और फिर अम्मी ने कहा जा बेटा अब मुझे नहा लेने दे.

फिर मेने अम्मी को अचे से पीठ पर साबुन मल दिया और उनके दूध और चुत को भी अचे से साफ़ करके दिया और साथ में मेने भी अम्मी के साथ नाह लिया।  अब में और अम्मी दोनों अक्सर साथ में ही नहाते है।  तो दोस्तो कैसी लगी मेरी स्टोरी ये इंडियन एडल्ट स्टोरी बिल्कुल सच्ची हैं. आप लोग मुझे ईमेल करके अपने कॉमेंट्स ज़रूर दे.

Popular Stories / लोकप्रिय कहानियां

  • Vaigra khila kar maa ko choda

    Hi mera naam SK hai aur main Mumbai se hun, aur main aapko aaj batane ja rha hun ki kese meri maa ko maine vaigra khila kar unki chut aur fir unki gand mari.

  • Uncle ka Gift

    Mummy ko aunty ne chudwaya – Part 1

    Papa ke naa hone par Mummy akeli ho jaati. Fir Sheela aunty ke kehne par Mummy ne FB par yaar banaya, jisne Mummy ko charam-sukh diya.

  • Maa ki chudai

    Mummy ko aunty ne chudwaya – Part 2

    Uncle ji ke gift dekhke Mummy bahut khush thi aur badle me unhone Uncle ji ko apne garam jism ka har ek maza diya.

  • Train me Uncle aur Mummy ka Samjota

    Indian Train me kya nahi hota dosto, Yahi ghatna ghati meri maa ke sath jub hum dono akele train me safar kar rahe the aur uncle ne meri maa chod daali.

  • Dost ki mast mummy ki pyasi chut

    Ek din maine apne ghar dost ke ghar uski maa ko nangi dekh liya. Bas tabhi se maine unki pyasi chut chodne ka fesla kar liya. Padhiye is sex kahani me!

आपकी सुरक्षा के लिए, कृपया कमेंट सेक्शन में अपना मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी ना डाले।

Leave a Reply