(Meri Choti Bahen Bani Meri Biwi)

मेरी छोटी बहन बनी मेरी बीवी

मैं राहुल, आज़ आपको अपनी सच्ची कहानी बताने जा रहा हूं, बात दरअसल २०१६ की है।

मेरी एक छोटी बहन है जिसका नाम रेखा है। तब उसकी उमर १८ साल की थी, मेरी उमर २० साल की।

मेरी बहन की चूची काफ़ी सुडौल है। मेरी नज़र जब भी उसकी चूची पर जाती है। तो उसे दबाने की इच्छा होती है। किन्तु मैं मां-बाप के डर के कारण कुछ नहीं कर सकता हूं।

अपनी सेक्स लाइफ को बनाये सुरक्षित, रखे अपने लंड और चुत की सफाई इनसे!

एक दिन घर में बहुत से मेहमान आ गये, जिसके कारण सोने के जगह की कमी होने लगी। किसी तरह एडजस्टमेंट किया गया। मैं और मेरी बहन जमीन पर सो गये।

रात में ठंड के कारण मेरी बहन मेरे से सट गयी। मैने भी मौके का फ़ायदा उठाते हुए, उसकी चूची पर हाथ रख दिया और धीरे धीरे सहलाने लगा, उसकी चूची काफ़ी हार्ड थी। चूची छूने के कारण मेरा लंड खड़ा हो गया।

अचानक मेरी बहन की आंख खुल गयी और वो हमसे दूर हो गयी। दूसरे दिन सभी लोग मेहमान को घुमाने बाहर गये।

मेरी बहन नहीं जा सकी क्योंकि उसका दूसरे दिन एक्साम था। मैं भी घर में ही रह गया।

दोपहर में खाने के बाद वो सो गयी, घर में सिर्फ़ मैं ही दोनो थे। उसको सोता देख कर उसकी बुर चोदने की इच्छा होने लगी, किन्तु डर के कारण हिम्मत नहीं हो रही थी। मैं साइंस का स्टुडेंट हूं और प्रैक्टिकल के लिये क्लोरोफोर्म लाया था।

मैने क्लोरोफोर्म को अपने रुमाल में डाल कर, उसके नाक के पास ले गया। चूंकि वो गहरी नींद में थी इसलिये वो बेहोश हो गयी।

मैने जल्दी से उसके कपड़े के ऊपर से ही उसकी चूची दबाने लगा।

चूची दबाते दबाते, मैं काफ़ी उत्तेजित हो गया और उसके टोप को ऊपर कर उसके बरा को बाहर निकाल दिया। उसकी दोनो खूबसूरत चूचियां मेरे सामने बिल्कुल नंगी थी। मैने उसको जोर जोर से दबाने लगा और उसका स्कर्ट ऊपर कर पैंटी भी निकाल दिया।

अब मेरे सामने उसकी बुर एकदम नंगी थी। उसके उठे हुए बुर को देख कर बरदाश्त नहीं हुआ।

मैने अपने सारे कपड़े उतार कर, उसकी बुर पर अपना लंड रगड़ने लगा। बुर पर अपना लंड रगड़ने के बाद, मैं अपना सुपाड़ा उसकी बुर के छेद पर रख कर हल्का सा झटका दिया। सुपाड़ा बुर में थोड़ा सा घुस गया।

रेखा बेहोशी के बाद भी कराह उठी।

काफ़ी कोशिश के बाद भी मेरा लंड बुर में घुस नहीं रहा था।

ये सब करीब एक घंटे तक चलता रहा। क्ल्रोरोफोर्म का असर भी अब धीरे धीरे कम हो रहा था।

मैने उसके बुर में एक झटका और दिया। उसके बुर से खून निकलने लगा और वो दर्द से कराह उठी, दर्द के कारण उसकी बेहोशी टूट चुकी थी।

वो अपने आप को नंगा देख कर और बुर में लंड पा कर डर और घबरा गयी और रोने लगी।

वो बोली, “भैया ये आप क्या कर रहे है”

उसको जगा देख कर मैं भी घबरा गया, किन्तु अब कुछ नही हो सकता था इसलिये उससे बोला, “रेखा मेरी प्यारी बहन, तुमको सोते देख कर और तुम्हारी चूची को देख कर, मैं अपना होश खो बैठा और तुम्हारे साथ ये सब करने लगा।“

वो बोली, “मुझे छोड़ दो मैं सब मम्मी और पापा को बताउंगी।“

मैने काफ़ी मन्नत की किन्तु वो नहीं मानी और छुड़ाकर भागने की कोशिश करने लगी।

मैं भी अपने आप को फंसता देख कर, उसके बुर में एक जबरदस्त झटका दिया और मेरा चौथाई लंड उसकी बुर में घुस गया। वो चिल्लाने लगी और लंड निकालने के लिये प्रार्थना करने लगी। तो मैं बोला मैं लंड तभी निकालूँगा जब तुम किसी से नहीं कहने का वादा करोगी।

वो नहीं मानी तो मैने एक झटका और दिया और मेरा थोड़ा लंड और उसके बुर के अंदर चला गया।

वो दर्द से रोने लगी और मैं अपनी शर्त मनवाने पर तुला था। दर्द उसको बरदास्त नहीं हो रहा था इसलिये वो प्रोमिस की कि किसी से नहीं बतायेगी।

अधिक कहानियाँ : वेश्या को बीबी बनाकर सेक्सी अंदाज में चोदा

तब जाकर मैने अपना लंड उसके बुर से निकाला।

वो बैठ कर रोने लगी और अपने दोनो हाथों से अपनी चूची छुपाने लगी।

मैं उसके पास जाकर बोला, “अब तो तुम्हारी बुर में मेरा लंड जा ही चुका है! तो तुम क्यों शरमा रही हो?”

बो बोली, “ये ठीक नहीं है।“

मैं बोला, “जवानी में सब ठीक होता है। शादी के बाद तुम तो किसी से चुदवाओगी ही। तो आज़ क्यों नहीं!” और उसकी चूची को हल्के हल्के सहलाने लगा, धीरे धीरे उसको भी मज़ा आने लगा और चुप चाप चूची सहलवाती रही।

मैने अपने लंड को उसके हाथों में दे दिया, किन्तु उसने अपना हाथ हटा लिया और बोली, “ये मैं नहीं कर सकती हूं। ये सब मैं सिर्फ़ अपने पति के साथ ही कर सकती हूं।“

मैं बोला, “चलो मैं ही तुम्हारा पति बन जाता हूं” और मैने सिन्दूर उसकी मांग में जबरदस्ती भर दिया।

उसने कहा, “भैया, आपने ये क्या कर दिया!”

मैं बोला, “अब मैं तुम्हारा भाई नहीं तुम्हारा पति हूं।“

वो चुप रही, तो मैने उसको अपनी गोद में उठा लिया और उसके चूची को चूसने लगा। उसके बाद बेड पर लिटा कर उसकी बुर में धीरे धीरे अपना लंड डालने लगा। अब वो विरोध नहीं कर रही थी।

मैने उसको कहा, “अब मैं तुम्हारा पति हूं। तुम मेरे लंड को चूसो।“

वो मेरे लंड को चूसने लगी, धीरे धीरे वो भी उत्तेजित हो गयी। तो मैने अपने लंड को काफ़ी कोशिश के बाद पूरा डाल दिया और करीब आधा घंटे तक चोदता रहा और अपना पानी भी उसके बुर में छोड़ दिया।

बठाये अपने लंड की ताकत! मालिस और शक्ति वर्धक गोलियों करे चुदाई का मज़ा दुगुना!

उस दिन के बाद वो मुझे ही अपना पति मानती है और जब भी मौका मिलता है खूब चुदवाती है।

एक दिन उसने बताया कि वो मां बनने वाली है।

मैं घबरा गया और एक दिन प्लान बना कर उसको ले कर एक दूसरे शहर में आ गया। अब वो मेरी पत्नी की तरह रहती है और मेरे एक बेटे की मां है।

Popular Stories / लोकप्रिय कहानियां

  • Caught my Elder Sister Red Handed

    Sister’s Duo Fucked by Cousin – Part 1

    Cousin sister sex story, Read how two sisters are getting fucked by their first cousin brother on their independent house.

  • मसाज के बहाने कज़िन की चुदाई

    मेरी कजिन बहन मेरे घर रहने आयी. सफर की परेशानियों की वजह से उसका बदन कहरा रहा था. तोह भाई में कजिन बहन को मसाज दी और क्या वो उसे चोद पाया? पढ़िए इस रोमांचक चुदाई कहानी में.

  • बहेन के चुचो का पेहला स्पर्श

    बहन के साथ चूत चुदाई का मजा-1

    इस भाई बहन की चुदाई स्टोरी में पढ़िए, कैसे मेने अपनी बहन के चुचो का पेहला स्पर्श किया और कैसे बहन मुझे उपसाय!

  • चचेरी बहन के साथ सेक्स

    इस हिंदी भाई-बहन चुदाई कहानी में पढ़िए। कैसे मेने अपने घर रहेने आयी, मेरी चचेरी बहन की रात में छेड़खानियां की और उसे चोदने के लिए भी मना लिया!

  • सोती हुए कजिन सिस्टर के साथ छेडखानिया

    ये भाई बहन की मस्ती भरी छेड़खानियों की कहानी में पढ़िए. कैसे मेने अपनी सोती हुए बहन के चूचे दबाये और उसकी काली चुत चाटी।

आपकी सुरक्षा के लिए, कृपया कमेंट सेक्शन में अपना मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी ना डाले।

Leave a Reply