(Pandit ki Baat Sun, Maa ko Choda)

पंडित की बात सुन, माँ को चोदा

दोस्तो, आज मैं आपके साथ जो सेक्स स्टोरीस इन हिन्दी शेअर करनेवाला हू, वो बहुत ही हॉट है. जिसे पढ़कर आप सभी लोग मूठ मार लोगे और लड़किया अपनी चुत मे उंगली डालकर पानी निकालेंगी. आपके साथ मैं जो स्टोरी शेअर कर रहा हू वो मेरी मम्मी के बारे मे है.

दोस्तो कहानी पढ़ने से पहले, मैं आपको बता देना चाहता हू की आप मेरी इस कहानी को पढ़ने के बाद आप मेरी मम्मी को चोदने के बारे मे ज़रूर ही सोचोंगे. तो अगर आपको मेरी मम्मी को चोदन हो, तो बिंदास बोलना. क्योंकि मैं भी मेरी मम्मी को बहुत सारे लोगो के साथ चुदवाना चाहता हू और मेरी मम्मी है भी इतनी हॉट हे.

मैं भी मेरी मम्मी को देखता हूँ, तो बेटा होने के बावजूद भी मेरा लंड खड़ा हो जाता है. तो आपका भी मेरी मम्मी को देखने के बाद पूरा खड़ा हो जाएगा और आप मेरी मम्मी को चोद ही डालोगे. तो दोस्तो आपको मई ज़्यादा बोर ना करते हुए सीधा स्टोरी पर आता हू.

मेरी मम्मी का नाम रंजना है और मम्मी की उमर 45 साल की है. पर मम्मी आज भी एकदम हॉट और एकदम सेक्सी लगती है. मम्मी का फिगर 36 30 34 का एकदम हॉट जेसा की बोलीवुड की काजोल देवगन दिखती है, वैसेही एकदम हॉट दिखती है.

मेरी मम्मी ज़्यादा तो टॉप और जीन्स पैंट पहनती है. तो आपको पता ही हॉंगा की टॉप के उपर से किसी भी औरत के बूब्स कैसे दिखते होंगे. मेरी मम्मी के बूब्स तो बहुत ही बड़े है और गोल गोल तरबूज की तरह बड़े भी है. जिसे देखकर मन करता है की उनके बूब्स को मूह मे लेकर पिजाउ और दबाते ही रहु.

मम्मी की कमर भी एकदम सेक्सी है और गॅंड तो पूछिए ही मत. क्योंकि जीन्स पहनने की वजह से मम्मी की गॅंड भी बहुत हॉट दिखती है. मम्मी जब चलती है, तो मन करता है की चोद ही डाले इसको.

तो दोस्तो दरअसल हुवा ये की पा जॉब की वजह से 2 हफ़्तो के लिए बाहर गये और घर पर सिर्फ़ मैं और मम्मी ही थी. तो मेरा लॅंड तो मम्मी को देखकर खड़ा ही हो जाता है. तो उस दीन मम्मी ने वाइट कलर की टॉप पहनी थी और जीन्स पैंट भी पहनी थी.

मम्मी ने मुजसे कहा की मयूर हमे मंदिर जाना है. तो मैं तय्यार हो गया और मोटर साइकिल निकाली. मम्मी मोटर साइकिल पे बैठी, तो जब भी स्पीड ब्रेक आता, तो मैं गाड़ी के ब्रेक दबाता. तो मम्मी के बूब्स मुझे टच होते थे, तो मुझे बहुत अच्छा लग रहा था.

फिर मैं कुछ देर बाद बार बार ब्रेक दबाता, तो मुझे बहुत अच्छा लगता. फिर कुछ देर के बाद मंदिर आया और हम दर्शन करने के लिए गये. फिर वाहा एक पुजारी आया, तो हम उसको भी प्रणाम करने लगे. तो वो बोला आप दोनो की जोड़ी हमेशा ऐसेही खुश रहे और बोला आपके बेटे भी हमेशा खुश रहे.

इससे पहले की मम्मी कुछ बोलती, वो निकल गया और हम भी निकलने लगे. तो बाहर कुछ लोग खड़े थे, वो मम्मी को घूर घूर के देख रहे थे और अपने लॅंड पर हात फेर रहे थे. और बोल रहे थे क्या माल है यार! अगर ये इसकी जगह हमे मिली होती तो बहुत ही मज़ा करते.

मैं उन लोगो की बात सुनी और मम्मी ने भी सुनी. पर मम्मी नीचे सिर कर के चलने लगी. मैं भी चलने लगा और हम घर आगये. तो घर आते वक्त हमे दोपहर के 1 बज गये थे. फिर हमने खाना खाया और मम्मी बेड पर जाकर सोने लगी. तो मुझे मेरी मम्मी के बारे मे बहुत बुरे ख़याल आने लगे और मेरा लॅंड खड़ा होने लगा.

तो मैने मम्मी के रूम मे झककर देखा, तो मम्मी सोई हुए थी और उनके आधे से भी ज़्यादा बूब्स टॉप के बीच मे से दिख रहे थे. मुज़मे थोड़ी हिम्मत आगई और मैने सोचा चाहे अब जोभी हो जाए, पर आज मैं मम्मी को चोदकर ही रहूँगा. तो मैं मम्मी के रूम मे गया.

फिर मैने अपने सारे कपड़े निकाल लिए और पूरा नंगा हो गया. फिर मम्मी के बेडपर जाकर, मम्मी के  टॉप की धीरे से बटन खोल दी और मम्मी के बूब्स को देखने लगा. धीरे धीरे अपने हात मम्मी के बूब्स की तरफ बढ़ाकर टॉप के उपेर से ही उनके बूब्स को मसलने लगा.

तो मुझे पूरा मज़ा आने लगा और मेरा लॅंड भी पूरा का पूरा 8 इंच का खड़ा हो गया. इतने मे मम्मी की जीन्स की बटन और चैन खोल दी और उनकी चुत को पैंटी के उपर से अपने पैर से ही दबाने लगा. उनके बूब्स को ज़ोर ज़ोर से मसलने लगा, तो मम्मी की नींद खुल गयी और मम्मी मेरी तरफ देखकर बोली.

अधिक कहानियाँ : सरिता भाभी की चुदाई

मम्मी – मयूर छोड़ मूज़े ये क्या कर रहा है तू!

मैं – मम्मी प्लीज़ करने दो मुझे मैं जो कर रहा हू.

मम्मी – बेटे, ये ग़लत है छोड़ दे मुझे.

मैं और जोश मे आते हुए मम्मी के बूब्स को दबाने लगा और बोलने लगा की मम्मी प्लीज़ सिर्फ़ एक बार करने दीजिए मुझे और आपको भी बहुत मज़ा आएगा. मम्मी सिर्फ़ एकहि बार करने दो…

मम्मी – नही बेटा, ये ग़लत है. मैं तेरी मा हू, बेटे… आह…

मैं – नही मम्मी आज आप एक औरत हो और मैं एक मरद. मुझे आज आप की ज़रूरत है और आपको मेरी, इसीलिए आप भी मेरी बात मानकर मेरा साथ दीजिए.

मम्मी – नही बेटा, तू अपनी मम्मी के साथ ऐसा मत कर.

मैं – नही मा, तुम तो जानती ही हो ना, हमे पंडित जी ने भी आशीरवाद दिया है.

मम्मी – वो तो ग़लती से हो गया था उनसे.

मैं – नही मा, उन्होनो बिल्कुल सच आशीर्वाद दिया था. वो जो लोग मंदिर के बाहर तूमे देखकर बोल रहे थे, वो भी तो तूमे मेरी बीवी ही समझ रहे थे.

मम्मी – पर ये सब ग़लत है बेटे.

मैं – देखो आप सही सही मान जाओ, वरना मूज़े आप से जबरदस्ती करना पड़ेगा.

अब मम्मी जान चुकी थी की मैं उन्हे चोदे बगैर नही छोड़ूँगा, तो वो मान गयी और बोली – पर अगर ये बात किसि को पता चल गयी तो?

मैं – किसी को पता नही चलेगी.

मम्मी – सिर्फ़ एक ही बार बस और उसके बाद नहीं.

मैं – ठीक है मम्मी.

फिर मैने मम्मी का टॉप निकाला और फिर ब्रा निकाल कर फेंक दिया. उनके बूब्स को ज़ोर ज़ोर से चूसने लगा और मसलता भी रहा. फिर मम्मी की जीन्स निकाली और बाद मे मम्मी की पैंटी भी निकाली. मम्मी अब पूरी नंगी हो गयी और मम्मी की चिकनी चुत मेरे सामने आगई.

मम्मी की चुत को देखकर तो मेरे पूरे होश उड़ गये. मैने अपने लॅंड को अपने हात से पकड़ा और मम्मी की चुत पर सेट करके मम्मी को चोदने लगा. मेरा लॅंड बहुत बड़ा होने के कारण मम्मी को बहुत दर्द होने लगा और मम्मी बोलने लगी – बेटा थोड़ा धीरे कर. तेरा तो तेरे पापा से भी बहुत बड़ा है.

तब तो मैं बहुत जोश मे आगया और मम्मी को ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा. क्योंकि मैं मेरी जिंदगी मे किसी औरत को पहली बार चोद रहा था और वो भी मेरी मम्मी को! तो मुझे बहुत ही मज़ा आरहा था. तो ऐसेही कुछ देर तक मम्मी को चोदने के बाद मेरा निकलनेवाला था. तो मैं मम्मी से बोला मम्मी मेरा छूटने वाला है.

तो मम्मी बोली – डालदे बेटा, मेरे अंदर ही और वैसे भी आज तू मेरे पति ही बन गया है. तो डालदो अपनी बीवी की चुत मे सारा माल.

मैं – हा मा आज से मैं आपका पति ही हू.

मम्मी – हा बेटे, तू ही मेरा असली पति है आज से और मैं तेरी बीवी.

इतना बोल ही रहा था की तभी मैने अपना सारा माल मम्मी की चुत मे छोड़ दिया और मम्मी के उपर लेटकर, उन्हे किस करता रहा.

फिर मम्मी को बोला – आपको मजा तो आया ना मेरे साथ?

मम्मी – बहुत ही मज़ा दिया तूने, जो आज तक तेरे पापा ना दे पाए. तेरा लॅंड भी बहुत बड़ा है. इसितरह मूज़े रोज चोदते रहना बेटे…

मैं – हा मा, मैं आपको रोज इसी तरह चोदता रहूँगा.

मम्मी – मूज़े आज लगा की सच मे पहली बार मैं चुदि हू. आज से तू वादा कर मूज़े की मेरा पति बनकर मूज़े हमेशा चोदता रहेगा और मुझे वो हर एक सुख देगा जो पति देता हैं.

मैं – हा मा, मैं वादा करता हू. आपको इसी तरह हमेशा चोदत रहूँगा और मैं आपको हर एक सुख दूँगा.

तो दोस्तो कैसी लगी? आपको मेरी सेक्स स्टोरीस इन हिन्दी ज़रूर बताना.

Popular Stories / लोकप्रिय कहानियां

  • Train me Uncle aur Mummy ka Samjota

    Indian Train me kya nahi hota dosto, Yahi ghatna ghati meri maa ke sath jub hum dono akele train me safar kar rahe the aur uncle ne meri maa chod daali.

  • Viagra kha kar Ammi ki Chudai

    Bhai ki Shadi me Ammi ki Chudai – Part 2

    Ammi ne bahana mar ke shadi se jaldi niklne ka plan bana liya tha, Aate waqt mene Viagra le li thi, Padhiye viagra kha ke kese mene ammi ki chut fadi.

  • Maa aur padoshwali chachi – Part 2

    Purane ghar me bhatije ne apni desi chachi ki saxy chut chod kar use apne bache ki maa banaya. Ye sex story padhiye aur lund khada kar lijiye.

  • Maa ka Kaamuk Badan

    Meri Sexy Maa ki Red Nighty – Part 1

    Mummy ko sexy nighty me dekh kar main unke jism deewana ho gya. Ye maa bete ki chudai kahani ek sachi aur desi sex story hai.

  • Pati ne mujhe bete se chudwaya

    Ye Maa-Bete ki Indian Adult Story me padhiye. Dusri shaadi ke baar mere sotele bete ne meri chut chod kar meri aag shant kari, wo bhi mere pati ke samne!

7 thoughts on “पंडित की बात सुन, माँ को चोदा

  1. जिस लड़की को मेरा मोटा लंम्बा लंड लेना हो तो कोल करें 75687*****

  2. जिस औरत या लड़की को लैंड की जरूरत हो तो संपर्क करें 78384*****

  3. Jis Kisi girl .aunty .bhabhi .saadi . Ko sex chat ya video call .ya real main lund ke make lene ho vo muje is whatsapp number par sampark kare 8979****

आपकी सुरक्षा के लिए, कृपया कमेंट सेक्शन में अपना मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी ना डाले।

Leave a Reply