जवान भतीजी को जीन्स की लालच दे कर चोदा – Part 1

हेलो दोस्तों,  मैं आपकी प्यारी आयशा खान. आज फिर से आप लोगों के लिए एक नयी सेक्स स्टोरी लेके इंडियन एडल्ट स्टोरी डॉट कॉम वेबसाइट पे हाजिर हु. यह कहानी है राहुल की जिसने अपने साली की लड़की यानि अपनी भतीजी को चोदा. तो चलिए सुनते हे राहुल के लफ्ज़ो में.

दोस्तों ये बात पिछले तीन साल पहले की है,  मेरी उम्र इस समय ३८ साल है, मेरी साली की एक लड़की है जिसकी उम्र इस समय लगभग 18 साल है. मेरी साली दीपावली की छुट्टियों से पहले मेरे घर रहने आयी और साथ में उसकी बेटी थी. उसका नाम प्रिया है.

मेरी साली ने मुझे कहा की जीजा जी ऐसा है सुनो मैं और दीदी तो कल जा रहे हैं शॉपिंग करने. लंच के तुरंत बाद निकलेंगें और हाँ अगर आप हो सके तो हाफ डे ले लेना. अगर मिला तो वर्ना प्रिया घर पर ही रहेगी. उस दिन रात को मैं प्लानिंग करता रहा कि प्रिया की चूत कैसे मारी जाये क्योंकि बहुत रिस्क था.

अपनी सेक्स लाइफ को बनाये सुरक्षित, रखे अपने लंड और चुत की सफाई इनसे!

प्रिया का बदन भरा हुआ तो था पर फिर भी एक जवान मर्द के लिए तो वो छोटी ही थी, मैं पिछले छह महीने से उसे छुप छुप कर देखता था. साली के कन्धों तक लहराते काले बाल, गुलाबी होंठ, चिकने गोरे गाल, गोल चेहरा, नशीली आँखें, गोरी कलाई, घर में वो अकसर टॉप और स्कर्ट में रहती थी कभी कभार जीन्स पहनती थी.

जब वो हमारे घर आती थी तो डायनिंग टेबल पर खाना परोस कर जाती थी. तो उसके आने से ही एक मस्त खुशबु का झोंका मेरी सांसों को तर कर जाता था. तब मेरा मन करता था की साली को कली से फूल बना दूँ, पर ये सब इतना आसान नहीं था.

उसी रात मैंने उसे मौका दख कर कहा प्रिया, तू भी अपने लिए जीन्स मंगवा ले अपनी मम्मी से पर मेरा नाम मत लेना. खैर सुबह हो गयी मैं ओफ्फिस चला गया और दिन में घर आ गया.

घर पर सिर्फ मेरी साली की लड़की रह गयी थी और मैं, वो बहुत गुस्सा थी क्योंकि उसकी मम्मी ने उसे जीन्स लेने के लिए मना कर दिया था. उस समय दिन के दो बजे थे, मेरी साली और मेरी घरवाली दोनों उसे रोता हुआ छोड़ कर चले गए थे. मेरे मन में उसे देख कर ख्याल आया की अगर इसे विश्वास में लिया जाये तो आज इसकी चिकनी चूत मारने का मौका मिल सकता है, पर मुझे अपने लंड की मोटाई से डर लगता था कि प्रिया की उम्र अभी सिर्फ 14 साल और 8 महीने ही है ऐसे में क्या मेरा लंड ले पायेगी? मेरे लंड का साइज तनने के बाद साढ़े सात इंच था और मोटाई इतनी थी की अंगूठे और साथ वाली ऊँगली के बिच में करीब एक सेंटीमीटर की जगह छूट जाती थी, ऐसे में मुझे बहुत रोमांच हो रहा था.

उससे पहले मुझे जब भी मौका मिलता था तो मैं प्रिया को सोते हुए देखता था. उसके भोले चेहरे पर एक अजीब सी नादानी रहती थी. जब वो इससे पहले हमारे घर आयी हुई थी, तो एक दिन मैंने उसके कमरे में जा कर देखा कि वो करवट ले कर लेटी हुई थी. उसकी स्कर्ट थोड़ी ऊपर उठी हुई थी, मेरी नजर उसकी चिकनी जांघों पर गयी तो मेरा लोडा हरकत में आ गया. मेरी बीबी और साली छत पर बतिया रही थी. जब मेरे से रहा नहीं गया तो मैंने धीरे से उसकी स्कर्ट ऊपर उठायी, तो मुझे उसके मोटे मोटे गोरे चुत्तड़ दिखाई दिए.

उसकी गांड करीब 28 इंच ही रही होगी, प्रिया उस समय नौवीं क्लास में पढ़ रही थी. मैंने धीरे से उसकी कच्छी की स्ट्रिप और थोड़ी सी खिंच कर साइड करके उठायी. आह. … उसकी गांड के छेद पर जैसे ही नजर पड़ी मेरे लोडे ने अंगड़ाई ली, छेद का रंग भूरा था और काफी झुर्रियां एक छोटे से गड्ढे में समा रही थी. मन तो हुआ की साली की गांड में ऊँगली घुसेड़ दूँ, पर मन मारना पड़ा.

फिर मुझे उसकी जांघों के बीच में एक मांस की काफी मोटी उभरी हुई फांक दिखाई दी, जिसके बीच में एक चीरा सा लगा हुआ था, और उस फांक पर छोटे छोटे भूरे रेशे उगे हुए थे. यानि की अभी उसकी झाँटें नहीं उगी थी, मैंने जल्दी से फ़ोन से उसकी वीडियो बनायीं. फिर मैंने अपना चेहरा उसकी गांड के करीब किया और एक लम्बी साँस ली. आह क्या गजब की सेक्सी खुशबु थी कुछ माँस की, कुछ पसीने की और कुछ पेशाब की. कुल मिला कर मन हो रहा था कि अपने मोटे लंड से प्रिया की चूत फाड् दूँ. पर ये टाइम ऐसा नहीं था बस उसकी गांड और चूत की खुश्बू से दिमाग तर हो गया. उसकी माँस की लम्बी फांक के काफी नीचे एक माँस की गांठ दिख रही थी, जो काबुली चने बराबर रही होगी. बाकि कुछ नहीं दिख रहा था. मुझे यही डर था की कहीं मेरी साली और बीबी न आ जाये? मैंने तुरंत ही न चाहते हुए भी उसके कपडे वैसे ही कर दिए और चुपचाप अपने बैडरूम में लेट गया, मैंने वीडियो अपनी मेल से अटैच कर दी.

पर इतने दिनों बाद मुझे फिर मौका मिल गया था, मैंने तुरंत फैसला लिया और प्रिया के कमरे की तरफ जाने से पहले मेन गेट पर ताला जड़ दिया. मैं उस समय सिर्फ बनियान और अंडरवियर में था, मैं जैसे ही प्रिया के कमरे में गया वो सुबक रही थी. मैंने प्यार से उसके सिर पर हाथ फेरा ,उसने मुझे कहा मौसा जी मेरी बात कोई नहीं सुनता मुझे छोड़ दो. मैंने उसके गाल थपथपाये और कहा, अरे इतनी छोटी सी बात नहीं मानी तेरी मम्मी ने? बहुत गन्दी है चलो छोड़, मैं लूंगा तेरे लिए जीन्स. बस चुप हो जा अब, मैंने बैड के किनारे बैठ कर उसे अपनी जांघ पर खींच लिया, पहले तो वो सकपकायी फिर नार्मल हो गयी.

मैंने उसे बहुत आत्मविश्वास के साथ कहा, प्रिया तुझे जो भी चहियेगा मुझे चुपचाप बता दिया कर. उसने कहा सच मौसा जी? मम्मी को तो नहीं बताओगे न? मैंने कहा पगली क्यों बताऊंगा उसे? हम दोनों को मार पड़ेगी. मैं धीरे धीरे उसके हाथों और बाँहों पर हाथ फेरने लगा और फिर मैं धीरे से झुका और उसके होंठ चूम लिए. वो अजीब नजरों से मुझे देखनी लगी लेकिन मैंने तुरंत ही कहा, अरे प्रिया बता तुझे कितने रूपए वाली जीन्स चाहिए? तब उसने कहा मौसा जी, मुझे बस बहुत अच्छी जीन्स चाहिए.

उसके इतना कहते ही मैंने कहा की, सुन जो भी बात हमारे बीच में होगी वो बाहर नहीं जानी चाहिए. उसने कहा मौसा जी अगर जीन्स दोगे तो सच में किसी को भी नहीं कहूँगी. बस ये मेरे लिए इतना काफी था और तभी मैंने धीरे से उसकी दायीं दुद्दी पर हलके से हथेली रख दी और सहालयी उसकी दुद्दी बहुत मुलायम थी और लगभग क्रिकेट की बाल थोड़ी सी बड़ी थी. उसने समीज भी नहीं पहनी थी उसने मेरा हाथ नहीं हटाया, फिर मैंने उसकी दूसरी दुद्दी दबायी तो उसने हलके से अपनी कमर हिलायी. उसने आँखें बंद कर के कहा मौसा जी जीन्स तो लोगे न मेरे लिए?

प्रिया को शायद अच्छा लग रहा था, मैंने उसे कहा की हाँ तेरे लिए बहुत कुछ लूंगा. पर नाप तो दे दे मुझे जीन्स के लिए, उसने कहा की ठीक है. आप नाप ले लो, मैंने उसे कहा की चल अब खड़ी हो जा, वो खड़ी हो गयी और मैंने अलमारी से एक इंच टेप निकाल लिया.

मैंने उसे कहा प्रिया अपना मुँह आगे की तरफ कर ले और तभी मैं इंच टेप लेकर नीचे उकडू बैठ गया. मैंने प्रिया को कहा की प्रिया अपनी फ्रॉक उठा तभी तो नाप ले सकूंगा. मेरे इतना कहते ही उसने अपनी फ्रॉक जैसे ही ऊपर करी उसकी गोरी जांघें देख कर मेरा हलक सुख गया. आह क्या गोरी टाँगें थी, मैंने दो तीन बार टेप आगे पीछे घुमाया और फिर कहा अरे यार. ऐसे तो सही नाप नहीं आ रहा है, उसने कहा मौसा जी जल्दी ले लो न कँही मम्मी न आ जाये? मैंने उसे कहा अरे एक काम कर अपनी कच्छी नीचे कर जल्दी, वो कुछ सकुचाई और कहा मौसा जी कितनी नीचे करूँ?

बस उसके इतना कहते ही मैंने उसकी कच्छी की एलास्टिक पकड़ी और उसके चूतड़ों से नीचे खींच दी. आह साले क्या गजब गोरे गोरे चुत्तड़ थे साली के? मजा आ गया मैंने इंच टेप से नापने के बहाने उसके चूतड़ों पर हाथ रख दिया और कहा हाँ, अब आया मजा और उसके चुत्तड़ दबा दिए वो थोड़ा असहज दिख रही थी. मैंने उसे कहा प्रिया थोड़ा सा आगे को झुक और बैड पर हाथ टिका ले. उसके ऐसा करते ही मांस की एक मोटी लम्बी उभरी फांक दिखाई दी. उस पर कोमल भूरे भूरे रेशे उगे हुए थे. मेरे सामने निहायत ही जवान चूत तन कर खड़ी थी. मेरा लोडा सनसनाने लगा था, मन तो हुआ की साली कि चूत अपने मुंह में भर लूँ, पर मैंने बेहद संयम से काम लेते हुए हुए कहा अरे प्रिया ये क्या है तेरी जांघों के बीच में? उसने कहा मौसा जी मैं यहीं से तो पेशाब करती हूँ आपके भी तो होगी? मैंने कहा नहीं मेरी नहीं है पर मेरी कैसी है तुझे अभी बताऊंगा जब नाप ले लूंगा तेरी.

मुझे पता था की जवान होती हुई लड़की को अगर एक बार लोडा दिखा दो तो वो फिर सब कुछ भूल जाती है. इसलिए मैंने उसे कहा प्रिया एक काम कर पीछे से तो तेरी नाप ले ली अब सीधी खड़ी हो जा और मेरी तरफ घूम जा उसने ऐसा ही किया. मैंने झूठ मुठ नाटक किया और फीता उसकी नाभि से लेकर जांघों तक 5 -6 बार ऊपर नीचे किया. यहाँ तक कि उसकी एक जांघ तक नापने का बहाना किया और इसी बहाने उसकी गोरी मोटी चूत पर हाथ फेर दिया. प्रिया ने अपना एक हाथ मेरे सिर पर टिका दिया था और तभी मैंने देखा की उसकी चूत से बिलकुल पानी की तरह की दो मोटी से बून्द लटकी हुई हैं.

बठाये अपने लंड की ताकत! मालिस और शक्ति वर्धक गोलियों करे चुदाई का मज़ा दुगुना!

प्रिया गरम हो गयी थी और उसकी बुर पानी छोड़ने लगी थी.

मेरा लोडा भी फूलने लगा था हालाँकि मेरा लोडा सिर्फ साढ़े सात इंच लम्बा था लेकिन काफी मोटा था, अब टाइम आ गया था की मैं उसे अपना लोडा दिखा दूँ क्योंकि उसने ही कहा था की मौसा जी आपकी भी तो होगी न?

दोस्तों, क्युकी ये कहानी थोड़ी लम्बी हे तो बाकि का अगला पार्ट आपको कल की स्टोरी में मिलेगा. तो आगे जानने के लिए कल फिर से हमारी मुलाकात होगी इंडियन एडल्ट स्टोरी डॉट कॉम पर और भी रसीली चुदाई कहानिओ के साथ. पर जाते हुए मुझे आप कमैंट्स, लाइक और ईमेल(ayesha69ias@gmail.com) के जरिये अपने विचार जरूर बताइयेगा. मुझे आप सब के गंदे ईमेल का इंतज़ार रहेगा. इंडियन एडल्ट स्टोरी पे चाचा भतीजी के चुदाई की स्टोरी पढ़ने के लिए आप सब का शुक्रिया. मुआहहहह…

Popular Stories / लोकप्रिय कहानियां

  • लाली की गांड का भरता

    विधवा भाभी की चुदाई-4

    लाली अब अपनी चुत चुदवाके तृप्त हो गयी थी. उसके मन में अब गांड मरवाने की लालशा जागी थी. पढ़िए कैसे मेने लाली को पिलर से बांध कर उसकी गांड मारी.

  • भाभी की माँ बनने की इच्छा

    भाभी को चोदने की कल्पना तो में कई बार कर चूका था पर उन्हें सच में चोदने का मौका कैसे मिला, पढ़िए इस मज़ेदार भाभी की चुदाई कहानी में।

  • सासू माँ की प्यास

    इस सासू माँ की चुदाई कहानी में पढ़िए, कैसे एक विधवा सास अपनी हवस की आग में जल रही थी और अपनी वासना पूरी करने अपने दामाद का सहारा लिया!

  • Badi Mami ki Chudai

    Vidhwa Maa ko Chodne ki lalsa – Part 4

    Maa ki sexy maalish ka nazara dikha ke mene apni badi maami ke ander ki kaamwasna ko bhdaka diya. Padhiye kaise mene apni badi mami ki chudai kari.

  • Radha Bhabhi ke sath Pehli Raat

    Main jawan ho gya tha par mujhe sex ke bare me jyada pata nhi tha. Fir ek shaadi me mujhe Radha bhabhi ke sath raat gujarne ka moka mil gya.

आपकी सुरक्षा के लिए, कृपया कमेंट सेक्शन में अपना मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी ना डाले।

Leave a Reply