(Peso ki lalach me Cousin Bahen Chud gayi)

पेसो की लालच में कजिन बहन चुद गयी

हाय फ्रेंड्स, मैं राहुल कपूर आप सब के सामने अपनी रियल स्टोरी लिख रहा हू. उससे पहले मैं आपको अपने बारे मे बता दू. मैं पुणे मे रहता हू और मेकॅनिकल इंजिनियर हू. मेरी एज 26 ईयर है. और मेरे लंड का साइज़ 5″ लंबा और 3″ मोटा है. यह स्टोरी मेरी और मेरे चाचा के बेटी सुनैना की है. उसका फिगर मस्त है. तो बात यहा से शुरू हुई. उस वक़्त मेरी एज 21 की थी और मैं अपनी इंजिनियरिंग की स्टडी कर रहा था. मेरे चाचा के फॅमिली मे उनकी वाइफ और उनकी 2 बेटीया थी. जो की हमारे घर के बिल्कुल साथ वाले घर मे रहते थे. पहले हम सबी इकहट्‍टे रहते थे बट उस समय हम छोटे थे तो सेक्स की जानकारी नही थी. और बाद मे जब हम अलग अलग रहने लगे. और सब ठीक चल रहा था. चाचा जी की दोनो बेटीया होशियार थी बट बड़ी वाली जिसका नाम सुनैना है वो कुछ ज़्यादा ही होशियार थी. बट धीरे धीरे जब वो बड़ी होती गई तो उसका शरीर ज़्यादा फूलने लगा और किसी हेरोयिन से कम नही लगाने लगे.

धीरे धीरे मेरी उसमे रूचि होने लगी और किसी ना किसी बहाने से उनके घर जाकर उसे देखता. यह बात उसे पता थी. एक दिन मैने उसे छत पर किसी से बात करते हुए सुना. वो अपने पिता जी के मोबाइल से रात को किसी से बात कर रही थी. और मैं चुपके से उसके पीछे जाकर खड़ा हो गया. जब उसकी बात खत्म हुई तो वो पीछे मूडी तो मुझे देख कर घबरा गई. और उसके फेस पर पसीना आने लगा. मैने पूछा किस से बात कर रही थी इतनी रात को तो सुनैना कहने लगी अपनी फ्रेंड से. मैने कहा बात करवा मेरी, तो दर गई. आप यह कजिन बहन की चुदाई कहानी इंडियन एडल्ट स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे हे। और सब कुछ बता दिया की मैं अपने क्लासमेट लड़के से बात कर रही थी और रोने लगी की प्लीज़ पापा को मत बताना. मैने उसे दिलासा दिलाया और कहा की इसमे क्या छुपाने वाली बात हैं.. तो वो थोड़ा ठीक हुई. फिर वो मुझसे सारी बात शेर करने लगी. जब भी उसे अपने बि.एफ से बात करनी होती तो मेरे से फोन लेकर जाती. एक दिन मैं घर मे अकेला था और वो आई और मेरे से फोन लेकर बात करने लगी. वो मेरे साथ ही बैठ गई. मैं भी उसकी बात सुनने लगा.

अधिक कहानियाँ : बीवी को गैर से चुदवाया

अपनी सेक्स लाइफ को बनाये सुरक्षित, रखे अपने लंड और चुत की सफाई इनसे!

उस दिन उसने रेड कलर का सूट पहना था और चुननी नही ली हुई थी. तो मेरा ध्यान उसके बूब्स की तरफ गया. वो अपने बात करने मे मस्त थी. मैं उसके पास ही बैठा था तो धीरे धीरे उसकी झांग पर हाथ फिराने लगा. उसने कुछ नही कहा. ऐसा करने से मेरा लंड खड़ा हो गया. और उसके लिए मेरे मन मे कुछ कुछ होने लगा. फिर धीरे धीरे मैं उसके पेट मे उंगली घुमाने लगा. ऐसे करते वो भी मज़ा ले रही थी और साथ साथ फोन पर अपने बि.एफ से बात करते जा रही थी. तभी अचानक मैने उसके बूब्स दबा दिए वो हड़बड़ा गई और उठ गई. मैने उसका हाथ पकड़ा और बैठने को बोला. उसने फोन कट करके मेरे को दिया और जाने को कहने लगी. मैने उसे कहा मैं तेरे इतने काम आया तू मेरा एक काम करदे. तो उसने पूछा क्या. तो मैने किस माँगी. बहुत कहने पर वो मान गई. एक किस के लिए. फिर मैने एक 5 मिनट की लंबी किस की और उसके बाद वो चली गई. ऐसे ही जब वो मेरे से फोन लेने आती तो मैं किस करता ऐसा करते करते काफ़ी टाइम बीत गया.

एक दिन वो मेरे पास आई और कहती की मुझे कुछ पैसे चाहिए , मैने कहा क्यू तो कहती मुझे अपने बि.एफ को गिफ्ट देना है उसके बिर्थडे पर. और मेरे पास ज़्यादा पैसे नही है. तो मैने मौका देखते हुए उसे कहा की पैसे तो मैं दे दूँगा बट मेरे को क्या मिलेगा? तो कहती मैं आपको क्या दे सकती हू? तो मैने उसे कहा मैं एक बार तुझे बिना कपड़ो के देखना चाहता हू. इस पर वो मना करने लगी और कहती बाकी जो बोलो मैं कर दूँगी बट यह मत कहो मैं तुम्हारी बहन हू. फिर मैने कहा पैसे चाहिए तो ऐसा करना होगा. तो वो चली गई और एक घंटे के बाद आई कहती ठीक है बट रात को जब सब सो जाएगे तो मैं छत पर आउन्गि और तुम देख लेना. मैं बड़ी बेसबरी से रात का वेट करने लगा. आख़िर वो टाइम आ ही गया. जब रात को मैने उसे बिना कपड़ो के देखना था. वो पिंक कलर की मॅक्सी मे उपर आई और कहने लगी की मुझे शर्म आ रही है. तुम जल्दी से देख लो. मैने कहा जल्दी कुछ नही होगा. मैं आराम से देखूँगा तो कहने लगी जैसे तुम कहो.

पहले मैने उसे किस किया धीरे धीरे वो भी मुझे रेस्पॉन्स देने लगी. किस करते करते मैने उसका एक बूब दबाने लगा. वो आहे भरने लगी शायद वो भी यह सोच कर आई हो की यह सब करना है. फिर मैने धीरे धीरे अपना हाथ उसकी पैंटी मे घुसा दिया. उसकी चुत मे एक भी बाल नही था. एक दम क्लीन और गीली हो गई थी. आप यह कजिन बहन की चुदाई कहानी इंडियन एडल्ट स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे हे। फिर मैने उसे अपना लंड पकड़वाया यह पकड़ कर डर गई. फिर धीरे धीरे वो मेरे लंड को उपर नीचे करने लगी. मैने उसे मूह मे डालने को कहा पहले उसने मना किया बाद मे उसने पूरा मूह मे लिया यह मेरा फर्स्ट टाइम था जो मेरे लंड की सकिंग कर रहा था. मैं सातवे आसमान पर था. वो आ आ करने लगी. और तभी मेरा छूट गया. उसके मुहह मेरे वीर्या से भर गया और उसने उल्टी कर दी. फिर मैने उसको अपने बनयान से साफ किया ओर थोड़ी देर ऐसे ही बैठे रहे. फिर मैने उसे मॅक्सी उतारने को कहा तो उसने चुप चाप उतार दी. पहले मैने उसके बूब्स को पकड़ा और मूह मे डाल कर चूसने लगा.

बठाये अपने लंड की ताकत! मालिस और शक्ति वर्धक गोलियों करे चुदाई का मज़ा दुगुना!

अधिक कहानियाँ : भाभी ने देवर को चोदा

उसने अपनी आखे बंद कर ली और आ आ करने लगी. फिर मैने अपना हाथ उसकी चुत प्र ले गया और 1 फिंगर उसकी चुत मे घुसा दी इस पर वो उछल गई जिस से मुझे पता चल गया की यह वर्जिन है. फिर मैने उसे अपना लंड उसकी चुत पर लेने को कहा तो वो मना करने लगी बट मैने उसे ज़्यादा पैसो के बारे मे कहा तो मान गई. फिर मैं छत पर लेटा और उसको अपने लंड पर बैठने को कहा. वो अपनी चुत मे मेरा लंड लेकर बैठी. पहले तो वो बहुत मना करने लगी फिर मैने उसे अपने नीचे लेटाया और लंड उसकी चुत मे रखा. चूत टाइट होने की वजह से अंदर नही जा रहा था. मैने थूक से लंड मसला और उसकी चुत पर रखा और ज़ोर से झटका मारा. लंड पहले झटके मे ही अंदर चला गया. जिस से उसकी चीख निकल गई. और वो रोने लगी. मैने उसे समझाया फर्स्ट टाइम ऐसा करने से थोड़ा दर्द होता है. फिर थोड़ी देर रुकने के बाद मैने धीरे धीरे झटके लगाने लगा. इस बार उसका दर्द कम हुआ और वो भी मेरे साथ मज़ा लेने लगी.

और आ आआहह आअहह फक मी भैया फक मी कहने लगी. इस से मैं और जोश मे आ गया और उसे ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा. मैने 25 मीं. जाम कर उसे चोदा. और फिर मेरा कम निकल गया. जब मैने लंड उसकी चुत से बाहर निकाला तो मेरे लंड पे खून लगा हुआ था. और उससे आछे से खड़ा भी नही हुआ जा रहा था. बट मैं बहुत खुश था. मैने उसे 500 रुपय दिए और नीचे आ गया. फिर उसको कभी भी पैसो की जरूरत होती वो मुझको कहती. वो मेरी पर्सनल रंडी बन गयी थी, जिसे में पैसे देकर चोदता था। अब उसकी शादी हो गई है. सो, अब मैं उसे चोद नही पाता.

Popular Stories / लोकप्रिय कहानियां

आपकी सुरक्षा के लिए, कृपया कमेंट सेक्शन में अपना मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी ना डाले।

Leave a Reply