सगे भाई का लंड मेरी चुत मे

(Sage Bhai ka lund meri Chut me)

सगे भाई ने की जम कर चुदाई का मज़ा – भाग २

कहानी का पिछले भाग यहाँ पढ़े – सगे भाई ने की जम कर चुदाई का मज़ा – भाग १

… फ़िर मेरे पास और कोई चारा नहीं था सिवाय उसकी बात मानने के, मैं ने चुप चाप सर हिला कर हाँ कह दी… उसने कहा- वाह मेरी बहना ! आज तो मजा आ जाएगा… आज तक बस ब्रा और पैंटी ही मिली थी मुझे तुम्हारी आज तो पूरी की पूरी रूबी मेरे सामने खड़ी है… फ़िर उसने मुझे उसका पायजामा नीचे करने को कहा, मैंने वैसा ही किया… वो अंडरवियर नहीं पहना था… मैं उसके लंड से पहले ही रुक गई… इसपर वो चिल्ला कर बोला… साली रुक क्यूँ गई… तेरे बॉस का लंड बहुत पसंद है तुझे… मेरा लंड नहीं लेगी क्या… चल उतर जल्दी से पायजामा मेरा… फ़िर मैंने उसका पूरा पायजामा उतार दिया अब वो पूरा नंगा लेटा था मुझे उसे देखने में शर्म आ रही थी.

पर उसका तना हुआ लंड देख कर मैं भी थोडी गरम हो गई थी… वैसे तो उसका लण्ड मेरे बॉस के लण्ड से कम लंबा और मोटा था… उसने मुझसे कहा जल्दी से चूसना शुरू करो ना… फ़िर मैंने उसका लण्ड अपने हाथों में लिया उसकी जांघों के बीच में बैठ गई और फ़िर उसका लण्ड अपने होठों पे रगड़ने लगी… अब मैंने भी सोच लिया था कि शरमाने से कोई फायदा नहीं है आज मेरा भाई मुझे बिना चोदे मानने वाला नहीं है तो क्यूँ नहीं खुल के चुदवाऊँ इससे ताकि चुदने का भी मजा आए… मैं उसका लण्ड होठों पे रगड़ रही थी… फ़िर लोलीपोप की तरह मैं पहले बस उसका सुपाड़ा चूस रही थी… उसके सुपाड़े से पतली पतली रस निकल रही थी… मैं उसे लिपस्टिक की तरह होठों पे लगा रही थी।

इतने में उसने भी अपने हाथों से मेरी गांड सहलाना शुरू किया… वो अपने दोनों हाथों से मेरी दोनों गोलाईयां सहला रहा था… मुझे इतना मजा नहीं आ रहा था क्यूँकि वो नाईटी के ऊपर से मेरी गांड को सहला रहा था… मैंने फ़िर उसके बिना कुछ कहे अपनी नाईटी उतार दी और अब मैं बिल्कुल नंगी थी उसके सामने…

इतने में उसने कहा – साली तूने तो न ब्रा ना पैंटी पहन रखी है.. पूरी तैयारी में थी मुझसे चुदवाने की क्या…

फ़िर मैंने कहा तुझसे नहीं मेरे बॉस आ रहे है ना ! तो… फ़िर बिना कुछ कहे मैं उसका लण्ड चूसने लगी… वो मेरे सिर को पकड़ कर जोर जोर से लण्ड में धक्का देने लगा… एक तरह से वो मेरा मुंह चोदने लगा… मैं बहुत गरम हो चुकी थी… मेरा मुंह पूरी तरह से चिपचिपा हो गया था उसके पतले रस से… फ़िर थोड़ी देर बाद उसने मुझे नीचे लिटा लिया और मेरे स्तनों से खेलने लगा। वो उन्हें जोर जोर से दबाने लगा। मुझे दर्द हो रहा था मगर मज़ा भी बहुत आ रहा था। यह सोच कर ज्यादा मज़ा आने लगा कि मेरा सगा भाई मुझे चोदने वाला है…

अधिक कहानिया : 4 घंटे की लव स्टोरी

वाऽऽऽ ! अब भाई मेरे दोनों स्तनों को बारी बारी चूसने लगा। वो मेरे चूचकों को जोर से काटने लगा.. दर्द से मैं कराहने लगी, बीच बीच में मैं चिल्ला भी पड़ती थी मगर उसे कुछ फ़र्क नहीं पड़ रहा था। उसने तो आज अपनी बहन की चूत फ़ाड़ने का सोच ही लिया था…वो मेरे निप्पल चबाने लगा, मैं मदहोश हो चुकी थी पूरी तरह.. मेरे मुंह से गंदे शब्द जो कि मैं मदहोश होने के बाद बोलती हूं अपने बॉस के साथ… निकलने लगे भाई के भी सामने !… मैंने कहना शुरू किया… आह अब चोदो ना राहुल… चोद दो मुझे… अपनी बहन की प्यास बुझाओ… चोदो… फाड़ डालो मेरी चूत…

फ़िर वो धीरे धीरे नीचे गया… और मेरी चूत चाटने लगा उसकी ये अदा मुझे बहुत पसंद आई क्यूँकि मेरे बॉस ने अपना लण्ड मुझसे बहुत बार चुसवाया था मगर मेरी चूत चाटने से मना करते थे… वो बिल्कुल कुत्ते कि तरह पूरी जीभ बाहर निकाल कर मेरी चूत चाटने लगा… वो जीभ को चूत के अंदर बाहर करने लगा… मुझसे अब रहा नहीं जा रहा था… मैंने कहा प्लीज़ राहुल मुझे अब लण्ड चाहिए तुम्हारा… अपना लण्ड डालो मेरी बुर में… उसने कहा बुर तो तेरी मैं जरुर चोदूंगा पहले बाकि सब का भी तो मजा ले लूँ…

फ़िर उसने मुझे पलट दिया और पेट के बल लिटा दिया… अब उसके सामने मेरी गांड थी.. वो मेरी दोनों चूतडों को मसल रहा था और मैं इतनी उत्तेजित थी कि अपनी ऊँगली अपनी चूत में डाले जा रही थी…फ़िर उसने मेरे चूतडों को चाटना शुरू किया… कसम से मैंने बहुत बार चुदवाया बहुत बार ! हाय ! मगर इतना मजा मुझे पहली बार आ रहा था वो भी मेरे भाई से… मैं आह आह आ औच… की आवाजें निकाले जा रही थी… वो पूरा मस्त होकर मेरी गांड चाटता जा रहा था… फ़िर उसने मेरी गांड में अपनी ऊँगली डाली… मैं चिहुंक उठी… मैंने कहा क्या कर रहे हो राहुल… गांड मरोगे क्या मेरी ? ! ? !…

उसने कहा – रूबी ! आज तो तेरे शरीर के हर छेद में अपना लण्ड डालूँगा मैं… तुझे चोद चोद के निढाल कर दूंगा… मैं खुशी से पागल हो रही थी…

फ़िर थोडी देर बाद उसने मुझे उठाया और अपनी जाँघों पर बैठा दिया वो लेता हुआ था मैं उसकी जाँघों पर बैठी थी वो मेरे बूब्स दबा रहा था… फ़िर उसने कहा – अब मेरा लण्ड पकड़ कर ख़ुद अपनी बुर में डालो…

मैंने वैसा ही किया… मेरी बुर से बहुत पानी निकल चुका था इस वजह से मेरी बुर पूरी गीली थी और उसका लण्ड भी… मैंने उसका सुपाड़ा अपनी बुर पे रखा और फ़िर धीरे धीरे उसपे बैठ गई जिससे की उसका पूरा लण्ड मेरी बुर में घुस गया… अब मुझे बहुत मजा आ रहा था… फ़िर मैं ख़ुद ऊपर नीचे करने लगी… मुझे ऐसा लग रहा था की राहुल मुझे नहीं मैं राहुल को चोद रही हूँ… मैंने हिलना तेज किया… वो भी नीचे से अपनी गांड उछाल उछाल कर मुझे चोद रहा था.

थोडी देर तक इस पोसिशन में चोदने के बाद उसने कहा – अब तुम नीचे आओ… मैं बेड पे लेट गई… वो मेरे ऊपर आ गया और मेरी दोनों टांगों को अपने कंधे पे रख दिया इससे मेरी बुर उसे साफ साफ दिखाई दे रही थी… फ़िर उसने मेरी बुर पे अपना लण्ड लगाया और एक ही झटके में जोर से पूरा अंदर डाल दिया… मैं लगातार सीत्कार कर रही थी आह…ऊंह ह्ह्ह ह .ओह ह हह कम ऑन राहुल… फक मी… चोदो… आह ह हह ह्ह्ह… और जोर से चोदो… अ आ आया अह हह हह…

अधिक कहानिया : कज़िन बहन की कुवारि चूत मारी

उसकी स्पीड बढती जा रही थी अब मुझसे कंट्रोल नहीं हो रहा था और मेरी बुर से सर सर करता हुआ सारा पानी बाहर आ गया… राहुल रुकने का नाम नहीं ले रहा था… मेरी बुर के पानी की वजह से उसके हर धक्के से कमरे में फत्च फच की आवाज़ आने लगी… वो मेरी बुर पेलता ही जा रहा था… मैं भी उसका साथ दे रही थी… मैं उसके दोनों चूतड़ों को पकड़ कर धक्के लगा रही थी अपनी तरफ़…

फ़िर मैंने उसे कहा – राहुल अपना रस अंदर मत गिराना, नहीं तो तुम मामा और पापा दोनों बन जाओगे इस पे वो हँस पड़ा और अपनी स्पीड और बढ़ा दी… अब वो गिरने वाला था …

वो मेरी बुर, जो कि चुदा चुदा कर पूरी भोंसड़ा बन गई थी, उससे लंड बाहर निकाला और मुझसे कहा कि अपने दोनों बूब्स को साइड से दबा कर रखने को। फ़िर मेरे दोनों बूब्स के बीच उसने अपना लंड डाल कर मेरी पेलाई शुरू कर दी थोडी देर ऐसे ही वो मुझे पेलता रहा उसके बाद उसके लंड से फच फचा कर सारा रस निकल गया जो कि मेरे पूरे मुंह में और चूचियों पे गिरा… मैं अपनी जीभ से और होठों से उसका रस चाट रही थी…

फ़िर उसने अपना लंड ही मेरे मुंह में दे दिया मैंने उसका लंड थोड़ी देर चूसा… मुझे ऐसा लगने लगा कि वो फ़िर से उत्तेजित हो रहा है… क्यूंकि वो मुंह के ही अंदर धक्के लगाने लगा… इतने में दरवाजे की घंटी बजी… टिंग टोंग !… वो उठ गया मैं भी उठ गई वो बोला मैं देख कर आता हूँ… उसने बिना दरवाजा खोले आई-होल से देखा तो मेरे बॉस बाहर खड़े थे… वो समझ गया की ये भी यहाँ रूबी को पेलने आए हैं… फ़िर उसने आकर मुझ से कहा – तेरे बॉस हैं…

फ़िर आगे कैसे मेरे बॉस ने मुझे चोदा और राहुल ने कैसे उनका साथ दिया… कैसे मेरा अगली तरक्की हुई अगले महीने में और राहुल ने कैसे मेरी बुर का सौदा कर के तरक्की ली पढ़िये अगले हिस्से में…

More from Storyline / श्रृंखला की कहानियां

    मेरी चुदाई का राज़ खुल गया!

    सगे भाई ने की जम कर चुदाई का मज़ा – भाग १

    भाई बहन की चुदाई कहानी में पढ़िए कैसे दोनों एक दूसरे से छुपकेसे प्यार करते हे और भाई ने बहन का राज़ धुंध कर उसे चुदाई के लिए मज़बूर करता हे।

    सगे भाई का लंड मेरी चुत मे

    सगे भाई ने की जम कर चुदाई का मज़ा – भाग २

    बहन का बॉस के साथ चुदाई का राज़ खुलने के बाद सागा भाई अपनी रंडी बहन को चोदे बिना रह नहीं पाया, पढ़िए कैसे भाई ने अपनी बहन चोदी!

Popular Stories / लोकप्रिय कहानियां

  • Lockdown me mili cousin ki chut

    Cousin behan ko ek raat maine chut me ungali kare dekh liya. Isse main itna garam hua ki uski chut chod daali. Lockdown me bhai bahan ki sex kahani padhiye.

  • My Hot Married Cousin’s Visit

    Read in Erotic cousin sister sex story – How I & my married sister become very close to each other, which lead to erotic sexual pleasure.

  • Randi behno ki karguzari-1

    Dosto, Mere ghat me 3 bahene thi. Abbu bachpan me hi hume chod ke chale gaye the aur maa allatala ko pyari ho gayi thi. Ghar ki jimyedariyo ko ghar ki 3 baheno apni chut bech ke kese sambhala?

  • Didi ki chuddakad saheliyan-2

    Didi ki saheli Reema thodi sidhi type ki ladki thi usko kaise chudne ke liye ready kiya padhe is romanchak chudai ki kahani me..

  • मेरी चुदक्कड़ बहन को लंड की जरूरत थी

    हेलो दोस्तों , मैं आपकी प्यारी आयशा खान। आज फिर से आप लोगों के लिए एक नयी सेक्स स्टोरी लेके इंडियन एडल्ट स्टोरी डॉट कॉम वेबसाइट पे हाजिर हु। यह स्टोरी भेजी है मकबूल खान ने, तो चलिए जानते हैं उन्हीं की जुबानी। नमस्कार दोस्तो, मैं मकबूल खान आपके पास मेरा सेक्स एक्सपीरियंस लेकर आया […]